Posts

Hindi All Type Shayari

Chandrayaan shayari in Hindi

Image
Shayari on Chandrayaan2
Chandrayaan2 shayari in Hinduism

Love for ISRO

Heart touching shayari

Image
Heart touching shayari


Love shayari

Image
Love shayari

sad shayari by Satyendra Kumar

Image
Sad shayari by Satyendra Kumar

Maa pr shayari

Image
Hindi All Type Shayari
Image
Hindi All Type Shayari
Love shayari Image download
उसके हुश्नो तारीफ में,उसे गुलाब कहते या कमल कहते
उदासे दौर की गुफ्तगूं में ख़ामोशी पढ़ते या हलचल कहते
जब देखा उसे अपने ही मुशायरे में किसी और के साथ
अब तुम ही बताओ ऐसे में दिल थामते या ग़ज़ल कहते

Love shayari

Image
Love Shayari    क्या कहा इश्क़ आसान है, कोई बहम है क्या
  सुना है बहुत ख़ामोश रहते हो,कोई गम है क्या
  नहीं चाहिए whisky, ram या signature
  तू आज मेरे पास में है, ये कोई कम है क्या


15 August ki shayari hd image download

Image
Hindi All Type Shayari

15 August HD images

15 August HD photos

देशभक्ति की शायरी डाउनलोड

Image
Hindi All Type शायरी

हिन्दी शायरी इमेज डाउनलोड 15 अगस्त की शायरी

ये अमन का चमन महकता मागेंगे

दोनों एक दूजे के हक में नेकता मागेंगे

तुम मस्जिद जाना और मै मन्दिर

दोनों ही अपने वतन की एकता मागेंगे

Hindu Muslim ki Ekta ki shayari

हिन्दू भी लड़े और मुसलमान भी लड़े मै भी लड़ूँ और ये सारा जहां भी लड़े मै चाहता हूँ हर कतरा सारी हद पे बहे   खून मेरा हो या तेरा, बस सरहद पे बहे

Shayari photos

Image
Hindi All Type Shayari

मेरी कविता

Image
Hindi All Type शायरी मेरी कविता

निश्वार्थ भाव है प्रेम मेरा इसकी कोई भी वजह नहीं मै आज भी तुझ पर मरता हूँ,शायद तुझको ये पता नहीं
सुइयां तकते-तकते हमने रातें सारी जग डाली    मई-जून की घोर दोपरही में राहें सारी तक डाली साइकिल से पैदल चलकर तेरा बलखाना अच्छा था बस मुझसे ही बातें करने पर जग का जलजाना अच्छा था
लेकिन हम दोनों मिल पाते, थी रब की शायद रजा नहीं मै आज भी तुझ पर मरता हूँ,शायद तुझको ये पता नहीं...
दो-चार घड़ी दो चार कदम गर साथ मेरे तू चल पाती तब सूरज की गर्म समायें भी फिर मेरे आगे ढल  जाती तुझमे थी सोंच-समझ लेकिन मेरी चाहत बेबाकी थी तूने अपने दिल की कह डाली पर मेरे दिल की बाकी थी
खुद से ज्यादा चाहा तुझको, की इसके सिवा कोई खता नहीं मै आज भी तुझ पर मरता हूँ,शायद तुझको ये पता नहीं.
देखें कैसे भिड़ती हैं  कमजोर हवाएं  दुनिया की हमने भी तो देखी हैं कुछ जोर वफ़ाएं  दुनिया की इस चेहरे की ख़ामोशी पर एक तेज सी चाहत खिल जाती एक ख्वाब मुकम्मल हो जाता, गर हाँ मे हाँ तेरी मिल जाती
जिस हिज्रे  गम में जीता हूँ इस बढ़कर कोई सजा नहीं मै आज भी तुझ पर मरता हूँ,शायद तुझको ये पता नहीं.

Hindi shayari

Image
Hindi All Type Shayari


dard bhari shayari

Mother's day image

Image
Hindi All Type Shayari
Mother's Day Images

Mahila Divas Ki subhkamnaye

Image
Mahila Divas Ki subhkamnaye