Sunday, 18 February 2018

Sad शायरी

दूर होकर भी तेरी आँखे नम नहीं हैं,
तेरी चाहत के सिवा कोई करम नहीं है,
अभी तक सूखे नहीं मेरे घाव सिर्फ इसलिए;
क्योंकि मेरे पास तेरे जैसा कोई मरहम नहीं है|

First

Sad shayari