Hindi All Type Shayari

Hindi shayari

Hindi All Type Shayari

मुझे कई राजाओं के कहर दिखाई देते हैं

मुझे कई राजाओं के कहर दिखाई  देते हैं,
बरबादी की होड़ में कई शहर दिखाई देते हैं|

ये तूफान जरा आइस्ता गुजर दरख्तों की शाखाओं से,
मुझे वहां कई परिंदो के घर दिखाई देते हैं|

अरे तुम कोयल की कूक न सुन सके अकेले में भी,
मुझे भरी भीड़ में तितलियों के पर सुनाई देते हैं|

सुना है कि हिज्र-ए-गम मिट जाते हैं कुछ सालों बाद,
लेकिन मुझे आज भी असर दिखाई देते हैं|

कोई उनसे कहो कि हमे अंजाम की फ़िक्र नहीं ,
हमे तो  केवल   सफर   दिखाई   देते  हैं|

मुझे चाहने वाले गरीब हुए तो क्या हुआ,
मुझे तो केवल उनके जिगर दिखाई देते हैं|

लिबाज़ उनका गंदा है मुझे क्या मतलब,
मुझे तो केवल उनके हुनर दिखाई देते हैं|

Comments